सपा में फूट; मुलायम ने अखिलेश-रामगोपाल को 6 साल के लिए पार्टी से निकाला

0
58
मुलायम सिंह यादव ने शुक्रवार शाम अखिलेश और रामगोपाल यादव को पार्टी से छह साल के लिए निकाल दिया। मुलायम ने कहा, “रामगोपाल यादव ने पार्टी को कमजोर करने का काम किया है। अखिलेश मेरी भी नहीं सुन रहे हैं। रामगोपाल ने उनका भविष्य खराब कर दिया है।” देश में संभवत: ऐसा पहली बार हुआ है जब किसी मौजूदा सीएम को उसके ही पिता ने पार्टी से बाहर कर दिया। वहीं, सपा में छह महीने के अंदर दूसरी बार इस तरह की फूट सामने आई है। इस बार ये कलह टिकट बंटवारे को लेकर हुई है। दरअसल, मुलायम के बाद अखिलेश और शिवपाल ने कैंडिडेट्स की अपनी अलग-अलग लिस्ट जारी की थी। वहीं, रामगोपाल ने राष्ट्रीय अधिवेशन बुलाने का एलान किया था। इसके बाद मुलायम ने अखिलेश-रामगोपाल को कारण बताओ नोटिस जारी किया था। लेकिन वे जवाब देते, इससे पहले दोनों को पार्टी से बाहर कर दिया गया। LIVE UPDATES…
09:00 PM:यूपी के डीजीपी जावीद अहमद को अखिलेश ने मुलायम और शिवपाल के घर के बाहर पर्याप्त सुरक्षा प्रबंध करने को कहा।
08:40 PM:मुलायम सिंह यादव ने शनिवार सुबह पार्टी एमएलए की बैठक बुलाई।
08:40 PM:यूपी के डीजीपी जावीद अहमद अखिलेश यादव से मिलने उनके आवास पहुंचे।
08:35 PM:यूपी के राज्यपाल राम नाईक ने कहा कि ये सपा का अंदरूनी मामला है, मैं इस पर करीबी नजर रख रहा हूं।
08:30 PM:अखिलेश यादव ने शनिवार सुबह 9 बजे सभी पार्टी एमएलए की मीटिंग बुलाई।
08:25 PM:शिवपाल यादव ने चिट्ठी जारी कर पार्टी वर्कर्स से कहा- रामगोपाल के अधिवेशन में जाने वाले को पार्टी से निकाला जाएगा।
08:15 PM:पूरे यूपी में सभी जिलों के एसपी को अलर्ट किया गया।
07:55 PM:उत्तरप्रदेश में राजभवन की पूरे मामले पर करीबी नजर। गर्वनर तैयार कर रहे हैं रिपोर्ट।
07:25 PM:मुलायम के घर के बाहर भी भीड़ जुटी।
07:25 PM:जेडीयू नेता शरद यादव ने कहा कि यह सपा का अंदरूनी मसला है।
07:15 PM:रामगोपाल ने कहा, ”जो कार्यवाही नेता जी ने की है, वो असंवैधानिक है। आपातकालीन सम्मेलन कोई भी बुला सकता है।”
06:55 PM:अखिलेश यादव के घर के बाहर कार्यकर्ताओं की भीड़ जुट गई। नारेबाजी शुरू हो गई।
06:45 PM:अखिलेश यादव ने अपने आवास पर इमरजेंसी मीटिंग बुलाई।
06:40 PM:मुलायम ने कहा, ‘‘अखिलेश क्या माफी मांगेगा, वो तो लड़ता है। पिता मानता होगा मुझे तो देखा जाएगा।’’
06:30 PM:मुलायम ने शिवपाल के साथ प्रेस कॉन्फ्रेंस की। अखिलेश-रामगोपाल को पार्टी से 6 साल के लिए बाहर किया। कहा- रामगोपाल गुटबाजी कर रहे हैं। उन्होंने अखिलेश का भविष्य खराब कर दिया है।
06:00 PM:मुलायम ने अखिलेश-रामगोपाल को कारण बताओ नोटिस जारी किया। रामगोपाल को जारी नोटिस में पूछा- “आपने राष्ट्रीय अधिवेशन कैसे बुला लिया? बिना मुझसे पूछे आपने ऐसा किया। पिछले कई दिनों से आपने अनुशासनहीनता के कई ऐसे काम किए हैं।” वहीं अखिलेश से पूछा गया कि क्यों ना आपको पार्टी से बाहर कर दिया जाए।
अखिलेश-रामगोपाल पर क्या बोले मुलायम
1. पार्लियामेंट्री बोर्ड तय करेगा विधानसभा में पार्टी का नेता
– मुलायम सिंह यादव ने कहा, “विधानसभा में समाजवादी पार्टी का नेता पार्टी का पार्लियामेंट्री बोर्ड और नेशनल एक्जिक्यूटिव्स तय करेंगे।”
– “हम पार्टी के सीनियर नेताओं से इस बारे में चर्चा करेंगे कि और क्या कड़ा एक्शन लिया जा सकता है।”
2. समाजवादी पार्टी को बचाने के लिए किसी भी हद तक जाएंगे
– मुलायम सिंह यादव ने कहा, “सपा को बचाने के लिए किसी भी हद तक जाएंगे। किसी भी कीमत पर पार्टी को बचाएंगे।”
3. सपा में अखिलेश और रामगोपाल का कोई योगदान नहीं
– मुलायम ने कहा, ” सपा में रामगोपाल यादव और अखिलेश यादव का कोई योगदान नहीं है।”
– उन्होंने कहा, “अखिलेश यादव का अब राजनीति में कोई भविष्य नहीं है।”
4. रामगोपाल ने पार्टी को नुकसान पहुंचाया- मुलायम
– मुलायम बोले,”रामगोपाल ने ना केवल अनुशासनहीनता की, बल्कि उन्होंने पार्टी को कमजोर करने और नुकसान पहुंचाने का काम किया।”
– “मैंने दौरे किए, मीटिंग की, ट्रैक्टर पर चला, साइकिल पर चला और 11 महीने में पार्टी खड़ी की। और, आप मुझसे पूछते भी नहीं।”
– “पार्टी को बचाने के लिए अखिलेश यादव और राम गोपाल यादव को 6 साल के लिए पार्टी से निष्कासित किया जाता है।”
5. समझ नहीं रहे हैं मुख्यमंत्री
– हम ये कह रहे हैं कि प्रो. रामगोपाल ने जो किया है, वो पूरी तरह असंवैधानिक है।
– अखिलेश मुझसे भी राय नहीं ले रहे हैं। रामगोपाल अखिलेश का भविष्य खत्म कर रहे हैं। ये मुख्यमंत्री समझ नहीं पा रहा है।
6. इस पर विचार करेंगे और क्या कड़ी सजा दें
– मुलायम ने बोला, “हम इस बात पर विचार करेंगे कि इन्हें और कड़ी सजा क्या दी जाए।”
– “पार्टी के कार्यकर्ताओं, नेताओं, विधायकों से अपील है कि इसमें शामिल ना हों। हम नहीं चाहते कि किसी के खिलाफ कड़े कदम उठाए जाएं।”
7. बिना पूछे बुला लिया राष्ट्रीय अधिवेशन
– मुलायम ने कहा, “राष्ट्रीय अधिवेशन बुलाने का अधिकार राष्ट्रीय अध्यक्ष का है। हमें पूछा नहीं और ना ही बताया। हमें तो मीडिया से पता चला।”
– “ये जनरल सेक्रेटरी बने बैठे हैं और आदेश करते हैं। दूसरा कोई काम नहीं करते हैं। अधिवेशन बुलाने का अधिकार राष्ट्रीय अध्यक्ष का है, वो मैं हूं।”
8. रामगोपाल ने अखिलेश को गुटबाजी मेें फंसाया
– मुलायम बोले, “जो मुख्यमंत्री हैं, वो नहीं समझ रहे हैं। ये मुख्यमंत्री का भविष्य ही खत्म कर रहे हैं।”
– “रामगोपाल यादव ने सीएम को गुटबाजी में फंसा दिया। सीएम समझ नहीं रहे हैं, सीएम तो निर्विवाद छवि वाला होता है।”
पार्टी से निकाले जाने पर क्या बोले रामगोपाल?
1. नेता जी ने जो किया वो असंवैधानिक है
– रामगोपाल बोले, ” मैं लखनऊ बहुत कम आता हूं। एडमिनिस्ट्रेशन में दखल नहीं देता। सिफारिशें नहीं करता। मुझे काम के लिए किसी सरकार की दरकार नहीं है।”
– “जो कार्यवाही नेता जी ने की है, वो असंवैधानिक है। आपातकालीन सम्मेलन कोई भी बुला सकता है। अभी तो 235 ही नामों की लिस्ट जारी की है, देखना 403 नामों की लिस्ट जारी होगी।”
2. पार्टी का अध्यक्ष गलत काम कर रहा है
– रामगोपाल ने कहा, “पार्टी का अध्यक्ष गलत काम कर रहा है। पार्लियामेंट्री बोर्ड की एक भी मीटिंग नहीं हुई, फिर कैसे उम्मीदवारों की लिस्ट जारी हो गई?”
– “हमने आपातकालीन मीटिंग बुलाई है और ये वर्कर्स के कहने से हुआ। मुलायम को भी हरकतों की पूरी जानकारी नहीं है। सम्मेलन इसलिए बुलाया गया है कि जो कुछ आज पार्टी में हो रहा है वो असंवैधानिक है।”
3. जिन्हें टिकट दिया वो जमानत भी नहीं बचा सकते
– रामगोपाल ने कहा, “जिन्हें टिकट दिया गया वो जमानत भी नहीं बचा सकते। ये तो हर जगह हो रहा है। एक ऐसी महिला को टिकट दिया गया जो जमानत भी नहीं बचा सकती।”
– उन्होंने कहा, ” जब ये गैर यादवों में वोट मांगने जाते है तो रामगोपाल की याद आती है। टीवी के माध्यम से कार्यकर्ताओं से निवेदन है कि वो सम्मेलन में आएं।”
loading...